प्रेरणादायक छोटी कहानियाँ तितली का संघर्ष moral stories in hindi for class 10

moral stories in hindi for class 10

प्रेरणादायक छोटी कहानियाँ तितली का संघर्ष moral stories in hindi for class 10

                      तितली का संघर्ष 

एक बार एक आदमी बाग में टहल रहा था तो उसने बाग में टहलते देखा किसी एक टेनी में लटकता हुआ एक तितली का कोकुन उसे दिखाई दिया।

आपका हर दिन उसे देखने लगा था तितली कोकून को हर रोज़ वह देखने के लिए आया करता था।
एक दिन उसने ध्यान किया कि उस कोकून  में एक छोटा सा छेद बन गया है।
उस दिन से वह वहीं पर बैठ गया और तितली के कोकून को घंटों तक वह देखते रहा।
उसने देखा कि तितली उस खोल से बाहर निकलने की बहुत ज्यादा कोशिश कर रही है पर बहुत देर बाद तक प्रयास करने के बाद भी वह उस छेद से नहीं निकल पाई।
और वह बिल्कुल शांत हो गई हो जैसे कि मानो उसने हार ही मान ली हो।
इसलिए उस आदमी ने तुरंत निश्चय किया कि वह उस तितली की  जरूर मदद करेगा।
उसने एक कैंची को उठाया और कोकून को खोलकर इतना बड़ा कर दिया कि वो तितली आसानी से बाहर निकल सके ।
और यही हुआ तो तितली बिना किसी और संघर्ष  के बाहर आसानी से बाहर निकल आई।
पर उसका शरीर पूरा शुजा हुआ था।और पंख भी पूरे शुख गए थे ।
वह आदमी तितली को यह सोच कर देखता रहा कि वो किसी भी वक़्त अपने पंख फैलाकर उड़ने लगेगी लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ वह बेचारी तितली कभी उड़ ही नहीं पाई और उसने अपनी बाकी की जिंदगी जाकर गिरते हुए बितानी पड़ी।
जबकि वह आदमी अपनी दया और जल्दबाजी में यह नहीं समझ पाया की दरअसल कोकून से बाहर निकलने की प्रक्रिया को प्रकृति ने इतना कठिन इसलिए बनाया है ।
ताकि ऐसा करने से तितली के शरीर में मौजूद सभी तरल उसके पंखों में पहुंच सके और वह छेद से बाहर निकलते ही उड़ सके।
शिक्षा/moral;  वास्तव में कभी-कभी हमारे जीवन में संघर्ष ही वह चीज होती है जिसमें हमें सचमुच की आवश्यकता होती है यदि हम बिना किसी स्ट्रगल से सब कुछ पाने लगे तो हम भी एक अपंग  के समान हो जाएंगे बिना परिश्रम और संघर्ष के हम कभी इतनी मजबूत नहीं बन सकते जितना हमारी क्षमता है।
दोस्तों अगर आपको ये   प्रेरणादायक छोटी कहानियाँ तितली का संघर्ष moral stories in hindi for class 10 आपको अगर पसंद आयी हो तो आप इस अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *