कौवा और सिप की प्रेरणादायक कहानी moral stories for kids in hindi

moral stories for kids in hindi

 

 

कौवा और सिप moral stories for kids in hindi एक बार एक कौवा था, और वा कवर बहुत भूखा था, तो अचानक उस से कौवे को समुद्र के तट पर एक सिप परी मिली।

उसी के अंदर का मांस को निकालने के लिए और उसको निकाल कर खाने के लिए उसने उस सिप को तोड़ने की बहुत कोशिश की ।

लेकिन वह सिप फिर भी नहीं खोली।

 

इसे भी जरूर पढ़े : हंस और मूर्ख कछुआ की कहानी panchtantra ki kahaniya

 

अब वह कौवा अपने चोच से उस सिप के अंदर का मांस को निकालने का बहुत कोशिश किया लेकिन फिर भी वह असफल रहा।

अब वह कौवा उस सिप को को पत्थर मारा लेकिन फिर भी उसे कुछ भी नहीं हुआ।

इसी बीच एक और चला कौवा वहां आ करके बोला”मेरे दोस्त यह सिप इस तरह से बिल्कुल नहीं खुलेगी।

तू मेरी सलाह मानो और इसे अपनी चोंच में दबाकर के ऊपर आकाश में उड़ जाओ।

और वहां से तो इस सीप को तुमको चट्टान पर गिरा देना तभी यह सिप खुल जाएगी।

भूखे कौवे को को यह विचार बहुत पसंद आया और उसने बिल्कुल वैसा ही किया।

कौवा उस सीप को मूह में दबाकर के उड़ जाता है और ऊपर जाकर के उसी को गिरा देता है।

और सिप तुरंत ही खुल जाती है लेकिन दूसरे कव्वे ने तुरंत उसे उठा लिया और उसके अंदर का सारा मांस खा जाता है।

और जब पहला कौवा वहां पहुंचा तो उसे सिर्फ सिप खोल के टुकड़े ही वहां मिलते हैं।

 

दोस्तों अगर अगर आपको यह कहानी कौवा और सिप moral stories for kids in hindi पसंद आयी हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ?

            HINDISTORIESCLUB.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *